• HOME
  • BLOG DETAIL
Suraj Kumar Goel

Suraj Kumar Goel

हम अपनी सारी मुलभुत आवश्यकता को पूरा करने के लिए मुद्रा का इस्तेमाल करते है, चाहे कोई वस्तु खरीदनी-बेचनी हो या फिर आपसी कोई भी लेन-देन, हर जगह एक भौतिक (physical) मुद्रा की आवश्यकता होती है।

इस मुद्रा (currency) को हम देख सकते है, छू सकते है। रूपये, डॉलर, पॉउंड ये सारे भौतिक मुद्रा है।

वहीं क्रिप्टो करेंसी (cryptocurrency) भौतिक करेंसी से बिलकुल अलग होती है। यह एक डिजिटल करेंसी है जिसे देख या छू नहीं सकते यानी भौतिक रूप में क्रिप्टो करेंसी का मुद्रण नहीं किया जा सकता।

यह एक इंटनेट की दुनिया की करेंसी है जिसे कंप्यूटर पर ही देख सकते है और वहीं इसे खरीदा या भेजा जा सकता है। पिछले कुछ दिनों से क्रिप्टो करेंसी काफी प्रचलित हुई है।

क्रिप्टो करेंसी कंप्यूटर एल्गोरिथ्म से बनाई गई है, और इसका को मालिक नहीं होता, अर्थात जिस तरह से भौतिक करेंसी पर किसी किसी देश या संस्था का अधिकार होता है उस तरह से क्रिप्टो करेंसी का नहीं होता।

 

बिटकॉइन दुनिया की पहली क्रिप्टो करेंसी है जिसे जापानी इंजीनियर Satoshi Nakamoto ने बनाया था। शुरुआत में बिटकॉइन उतनी प्रचलित नहीं थी, पर अब इसका दाम आसमान छू रहा है। 1 डॉलर से ज़रूर हुई बिटकॉइन की कीमत आज 13000 डॉलर हो चूका है, आप इसी से अंदाजा लगा सकते है की आने वाले भविष्य में क्रिप्टो करेन्सी की ग्रोथ कितनी है। आज बाजार में 100 से ज्यादा क्रिप्टो करेंसी मौजूद है।

क्रिप्टो करेंसी का उपयोग कानूनन सही है या नहीं?

बहुत से लोगों के मन में यह सवाल आया होगा कि क्रिप्टो करेंसी का उपयोग करना कानूनी रुप से सही है या नहीं, तो यह फैसला इस बात पर निर्भर करता है कि आप किस देश में रहकर इसका उपयोग कर रहे हैं कुछ देशों में अभी भी क्रिप्टो करेंसी को कानूनी मान्यता नहीं मिली है और कुछ देशों ने इसे ग्रे जोन में रखा है (जहां ना तो इसे औपचारिक तौर पर बैन किया गया है और ना ही इसके प्रयोग की मान्यता दी गई है) भारत में अभी क्रिप्टो करेंसी को कानूनी मान्यता प्राप्त नहीं हुई है। हालांकि खबरें यह भी है कि भारत की सरकार डिजिटलाइजेशन पर अधिक ध्यान दे रही है जिसके चलते वह अपनी क्रिप्टो करेंसी लक्ष्मी लांच करने जा रही है परंतु अभी तक भारत की इस क्रिप्टो करेंसी की अधिकारिक रूप से घोषणा नहीं की गई है।

क्रिप्टो करेंसी में अच्छी ग्रोथ के चलते भारतीय नागरिकों का रुझान भी क्रिप्टो करेंसी की तरफ देखने को मिल रहा है।