• HOME
  • BLOG DETAIL
Suraj Kumar Goel

Suraj Kumar Goel

तुम मुम्बई की बाला हो, मैं बिहार का रहने वाला प्रिये!
तुम पॉप म्यूजिक सुनने वाली और मैं सुनता मधुशाला प्रिये।

तुम शशि थरूर की अंग्रेज़ी सी, मैं लालूजी का भाषण प्रिये!
तुम अमेज़न की फ़ेस्टिव सेल हो और मैं बनिए वाला राशन प्रिये।

तुम अमेरिकन डॉलर सी, मैं गाँधी वाला नोट प्रिये!
तुमको मैं चाहने वाला, और तुम करती दिल पे चोट प्रिये।

तुम खूबसूरत कश्मीर की वादी, मैं 370 की धारा प्रिये!
तुम अमित साह की सूझ बुझ हो और मैं विपक्ष सा बेचारा प्रिये।

तुम शहरों में रहने वाली, मैं शुद्ध देशी गंवार प्रिये!
तुम चौथी ट्रॉफी हो मुंबई की और मैं चेन्नई की 1 रन की हार प्रिये।

मैं भगवाधारी योगी सा, तुम ताजमहल सी सफेद प्रिये!
तुम रोज़ हारती कांग्रेस सी और मैं मोदी सा अभेद प्रिये।

मैं झारखण्ड बोर्ड का पिछड़ा छात्र, तुम CBSE की क्वीन प्रिये!
तुम सुनती Song शकीरा की और मैं भोजपुरी Song में लीन प्रिये।

तुम Carmel से पढ़ने वाली, मैं Hindi Medium का छात्र प्रिये!
तुम नाटक की रचना हो और मैं उस नाटक का पात्र प्रिये।

मैं एक बुझा हुआ बल्ब सा, तुम दौड़ती हुई करेंट प्रिये!
मैं टूटा फूटा एक मकान हूँ और तुम बारात की जगमगाती टेंट प्रिये।

मैं बिखरा सितारा, तुम जगमगाती शाम प्रिये!
मैं देशी शराब सा और तुम अंग्रेज़ी जाम प्रिये।

तुम IPL की ट्रॉफी ठहरी, मैं RCB का टीम प्रिये!
तुम Netflix की मेंबर हो और मैं देखता छोटा भीम प्रिये।

मैं बंदा हूँ देशी, तुम बंदी बिलकुल कूल प्रिये!
मैं तेरे इश्क़ में डूबा हुआ, और तुम बनती मुझको फूल प्रिये।

तुम Low Earth Orbit सी, मैं तेरा चक्कर काटता Satellite प्रिये!
तुम पतले डोर की मांझा हो, और मैं तेरे संग उड़ता Kite प्रिये।

तुम हिंदी की वर्णमाला हो, मैं शब्दों का कलाकार प्रिये!
तुम कोहिनूर की चमक जैसी और मैं कोहिनूर का चौकीदार प्रिये।

तुम केजरीवाल की लगभग वाली बात, मैं मनमोहन सा वफादार प्रिये!
तुम 2019 की चुनाव हो और मैं जीत का No.1 हकदार प्रिये।

मैं बंदा हूँ जितना बुद्धिमान, तुम बंदी उतनी पगली प्रिये!
मैं MiG-21 सा शानदार और तुम F-16 सी नकली प्रिये।

तुम उच्चारण हो राहुल की, मैं मोदी का व्याख्यान प्रिये!
तुम AAP की चंदा हो, और मैं करता महादान प्रिये।

मैं कुमार विश्वास के शुद्ध हिंदी जैसा, तुम केजरीवाल की झूठ प्रिये!
मैं मुलायम सिंह जैसा सच्चा और तुम महागठबंधन की लूट प्रिये।

मैं तुम्हारा फेवरेट Teddy Bear, तुम समझ ना आने वाली Rafale यान प्रिये!
तुम कांग्रेस सरकार की घोटाला हो, और मैं मनमोहन सा नादान प्रिये।

मैं आडवाणी सा निराश हूं, तुम शशि थरूर सी मौज प्रिये!
तुम मायावती जैसी अप्सरा हो, मैं कैसे करूं तुम्हें प्रपोज प्रिये।

तुम कोयल की कू कू सी, मैं कौवे की Kawwww प्रिये!
मैं बजरंग-दल सा कठोर, तुम बाबू शोना वाली Wawww प्रिये।

तुम lakme की eyeliner सी, मैं काले टीके वाला प्रिये!
तुम पुराने बंगले की आत्मा हो, और मैं भूत भगाने वाला प्रिये।

तुम चपर चपर करती ममता सी, मैं हूँ मनमोहन सा शांत प्रिये!
तुम एंजेल प्रिया जैसी हो स्मार्ट, मै शुद्ध गंवार रमाकांत प्रिये।